लखीसराय न्यूज : सदर अस्पताल में अब चार नई ओपीडी का ऑपरेशन होगा, नौकरी तय करने की स्थिति होगी


रिपोर्ट- अविनाश सिंह

लखसराय : सदर अस्पताल में अब चार नए ओपीडी संचालित होंगे। इससे अब यहां वैसे दावों का भी उपचार संभव हो सकता है जो लंबे समय से अलग-अलग कारणों से बंद पड़े थे। सदर अस्पताल में आघात के लिए वातानुकूलित वार्ड, जैरियेटिक, ईएनटी एवं सर्जरी ओपीडी का संचालन हो सकता है।

इसके लिए कभी भी नियुक्ति कर ली गई है। पहले इसमें कुछ सामान उपलब्ध था। जिसे नए दृश्यों से चालू किया गया है। वहीं कुछ सुविधा पहली बार बहाल कर दी गई है। मारिजों की सुविधा के बारे में काफी हद तक सामना करना पड़ा। उन्हें इलाज के लिए निजी अस्पताल में छोड़ दिया गया था। हालंकि अब सुविधा बहाल होने से नागरिकों को काफी राहत मिलेगी।

सदर अस्पताल को चार विशेषज्ञ मिले

राज्य स्वास्थ्य समिति की ओर से चार विशेषज्ञ डॉक्टरों का चेकअप किया गया है। जिसकी जिम्मेदारी आपकी पूरी है। सीएस डॉ. बीपी सिन्हा के निर्देश पर सदर अस्पताल प्रबंधन ने जैरियेटिक ओपीडी के लिए डॉ. सुधांशु कुमार को जिम्मेवारी सौंपी गई है।

स्थापना काल से ही ईएनटी रोग विशेषज्ञ की कमी रहे जिला स्वास्थ्य विभाग को राज्य स्वास्थ्य समिति द्वारा ईएनटी रोग विशेषज्ञ डॉ. गोपालक के साथ समझौता करने के बाद प्रबंधन ने उन्हें नियमित ईएनटी ओपीडी संचालन की जिम्मेवारी सौंपी। वहीं दो चिकित्सक चिकित्सक डॉ. हिमांशु कुमार एवं डॉ. मृत्युंजय कुमार को एक सप्ताह में तीन-तीन दिनों में सर्जरी ओपीडी एवं ओटी की जिम्मेवारी सौंपी गई है।

महीने के पहले रविवार को डॉ. हिमांशु कुमार वहीं दूसरे रविवार को मृत्युंजय कुमार, तीसरे व चौथे रविवार को हिमांशु कुमार एवं पांचवें रविवार को मृत्युंजय कुमार को ऑनकॉल ओटी सेवा के लिए ड्यूटी ड्यूटी में शामिल किया गया है।

डेंटिस्ट के अनुसार ड्यूटी करेंगे

सदर अस्पताल प्रबंधक नंद किशोर भारती ने बताया कि डॉ. हिमांशु कुमार, डॉ. गोपाल, डॉ. मृत्युंजय कुमार एवं डॉ. सुधां कुमारशु को डॉक्टर ड्यूटी ड्यूटी में शामिल कर संबंधित ओपीडी के लिए स्थान का चयन कर रोगी से संबंधित रोग विशेषज्ञ चिकित्सक का लाभ लाभ दावा किया जाएगा। उसी मौसम में बदलाव के कारण सदर अस्पताल में आने वाले हिट के शिकार लोगों के लिए भी विशेष व्यवस्था की गई है।

टैग: बिहार समाचार, स्वास्थ्य समाचार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *