चक्रवात फ्रेडी दक्षिणी अफ्रीका से टकराया, 3 देशों में बारिश-भूस्खलन से सैकड़ों लोगों की जान गई और 88 हजार लोग बेघर


दक्षिणी अफ्रीका में चक्रवात फ्रेडी: अफ्रीका महाद्वीप के कई देशों में साइक्लोन-फ्रेडी ने तबाही मचा दी है। मलावी, मोजाम्बिक और मेडागास्कर में सैकड़ों लोगों की जान चली गई है और हजारों लोग जहां-तहां बूनी हैं। बारिश, बाढ़ और मडस्लाइड की वजह से करीब 88 हजार लोग रिहा हो गए हैं।

बारिश, बाढ़ और मदस्लाइड से निराशा हुई
हिंद महासागर से सटे देश मलावी में स्थिति ज्‍यादा सिनिस्टर हैं, वहां के राष्ट्रपति लाजरस चकवेरा ने देश में 14 दिन के राष्ट्रीय शोक की घोषणा कर दी है। गुरुवार को राष्ट्रपति क्वीन एलिजाबेथ अस्पताल का दौरा करने पहुंचीं, जहां उन लोगों ने बाढ़ से मुलाकात की। जाखमी लोगों को देखकर वह भावुक हो गए।

लोगों को अपने घर छोड़कर भागना पड़ रहा है
मलावी के जलवायु परिवर्तन मंत्रालय ने कहा है कि आगमन वाले दिनों में भी तेज बारिश होने की संभावना है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, मोजाम्बिक में भी लैंडस्लाइड की वजह से कई गांव पूरी तरह से कट चुके हैं। लोगों को अपने घर छोड़कर भागना पड़ रहा है। साइक्‍लोन से प्रभावित क्षेत्रों में लोगों को जरूरत के सामान से भी परेशानी हो रही है।

400 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है
मलावी के जलवायु परिवर्तन मंत्रालय के अनुसार, मलावी में फ्रेडी स्टॉर्म सबसे पहले फरवरी में आया था। उसके बाद अब यहां पर भीषण बारिश आई और बाढ़ ने तबाही मचा दी। बताया जा रहा है कि अफ्रीका के 3 देशों मलावी, मोजाम्बिक और मेडागास्कर में 400 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। कई क्षेत्रों में बाढ़ के चलते लोग स्कूल में शरण ली हैं।

नदी में जिंदा बहे गए लोग
आपदाग्रस्त मलावी में लोगों की जिंदगियां जाने के कई वीडियो फुटेज सोशल मीडिया पर सामने आए हैं। एक वीडियो में दिख रहा है कि प्रतिबद्ध लोग नदी में बहते जा रहे हैं। उनकी चीखें निकल रही हैं। इसी तरह मोजांबिक और मेडागास्कर से भी सिनिस्टर के दृश्य सामने आए हैं।

यह भी पढ़ें: तूफान की चेतावनी! चक्रवात गैब्रियल मचा कर सकता है न्यूजीलैंड में तबाही, 500 से ज्यादा फ्लाइट कैंसिल, 58 हजार घरों की बिजली गुल, लोगों में खतरा



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *